गुरुवार, 22 अक्तूबर 2015

जबर गोहार


छत्तीसगढ़ीया "जबर" गोहार

मोर मयारू संगी संगवारी
छ.क्रां.से.के जय जोहार
हमर मान सम्मान खातिर
छत्तीसगढ़ीया के जबर गोहार

रोज मेहनत करय मोर किसान
लोहा के काम करय भाई लोहार
किसान मजदूर के नियाय खातिर
छत्तीसगढ़ीया के जबर गोहार

पढ़े लिखे मोर संगी नवजवान
डीग्री धरे संगवारी बेरोजगार
सब के काम अऊ हित खातिर
छत्तीसगढ़ीया के जबर गोहार

आवव लड़बोन जम्मो मिलजुर
ये बईरी मन से नई होवय हार
नोनी बहिनी महतारी खातिर
छत्तीसगढ़ीया के जबर गोहार

बहुत होगे बाहिर के संस्कृति
गरबा डांडिया छठ पूजा तिहार
सुवा ददरिया जसगीत खातिर
छत्तीसगढ़ीया के जबर गोहार

जेती देखबे तेती खाली बाहिरी 
बंगाली राजस्थानी यूपी बिहार 
छत्तीसगढ़ ल बचाय खातीर 
छत्तीसगढ़ीया के जबर गोहार 

समझावत हन समझ जवव 
नई मानहु करबो कड़ा प्रहार 
हमर साहित्य संस्कृति खातिर 
छत्तीसगढ़ीया के जबर गोहार 

जय छत्तीसगढ़ 
छत्तीसगढ़ीया क्रांति सेना