गुरुवार, 10 मार्च 2016

हास्य कवि सम्मेलन जमाही बेलर घटारानी


हास्य कवि सम्मेलन ग्राम जमाही
बेलर घटारानी महाशिवरात्रि 
07 मार्च 2016
------------------------------------------------
हास्य कवि सम्मेलन मे मोर पहली 
कविता पाठ मे मया दुलार मिलिस अपार 
अऊ मोर गुरूदेव मन के आशिर्वाद 
आसिस मिलिस, आयोजक अऊ सौजन्य 
स्मरण साहित्य समिति छुरा ल अंतस ले 
आभार धन्यवाद जो हमन ल मंच प्रदान करिस। 
------------------------------------------------------
आमंत्रित कवि अऊ गुरूदेव मन के स्वागत 
सम्मान बर मोर कलम से निकले छोटे छोटे 
शब्द समर्पित हे आशिर्वाद देहु। 
-------------------------------------------------------
हिन्दी के ब्यंग कवि हमर गुरूदेव
चमकत रहे ओकर माथ म चंदन
सिस झुकाव मै करव चरण बंदन
हमर मार्गदर्शक "कासीपुरी कुंदन"

कंठ ल निकलथे सुग्घर गीत
जईसे मिठ सरद पुन्नी के खीर
हमर छत्तीसगढ़ी साहित्य के बीर
गुरूदेव जनाब "मीर अली मीर"

हास्य बियंग के मारिस जोर से मंतर
हास हास के होगेन सब मुड़ पिरवा
बड़ प्रतिभा के धनी हमर गुरूदेव
बईगा गुरूजी "ॠषि वर्मा निनवा"

संचालन करे म महारथ हासिल
मोर मयारू भऊजी के स्वामी
पुरा समा ल जोरदार बांध लेथे
हमर गुरूजी "हलधर गोस्वामी"

महतारी के मान सम्मान करईया
रचना करईया म हवय बड़ खाटी
छत्तीसगढ़ी भाखा के हमर कवि
गुरूजी हे "महेन्द्र देवांगन माटी"

दल्लीराजहरा के अईसन मोर हीरा
कविता मे कहिथे मोर गांव आहू
सब के हरईया दुख अऊ पीरा
छत्तीसगढ़ के हीरा "हीरालाल साहू"

बिलाईगढ़ के खुसबु लेके आये
मन म नवा नवा सब्द आथे ख्याल
मीठ गीत गजल कोयली के राग
हमर टंडन बड़े भईया "दीनदयाल"

कविता ले कभु हसाय कभु रोवाय
त करय कभु हमन ल अकचकित
मोला आगु के रददा ल देखईया
हमर साहू भईया मयारू "ललित"

पुलिस विभाग म हवय सेवारत
करथे सुग्घर सबके सेवा काम
रिस्ता म लगय मोर मयारू साड़हु
हमर माना वाले भाई "सोनु नेताम"

आखिर म बारी रोठ मोठ तगड़ा
कुछु बोल दुहु त हो जाही झगड़ा
हम दुनो के एके झन हवय गुरू
सब के चहेता मयारू "देवेन्द्र धुरू"
____________________________
रचना - देव हीरा लहरी
चंदखुरी फार्म मंदिर हसौद
रायपुर छत्तीसगढ़
मोबा. - 9770330338