गुरुवार, 10 अगस्त 2017

छग की पंथी लोक नृत्य दल 14 को गुजरात में देगी प्रस्तुति


■ विश्व प्रसिद्ध उपकार पंथी नृत्य कुटेसर चंदखुरी, कई राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय मंचों पर दे चुके हैं अपनी प्रस्तुति

चंदखुरी : "एक भारत श्रेष्ठ भारत" के अंतर्गत गुजरात में दो दिवसीय "मानसून उत्सव" के नाम से भव्य सांस्कृतिक आयोजन किया गया है। इस कार्यक्रम में देश के अलग अलग राज्यों से प्रतिष्ठित लोक नृत्य दल को आमंत्रित किया है। जिसमें छत्तीसगढ़ से तीन लोक नृत्य दल का चयन हुआ है। 12 को सापूतारा में गेड़ी लोक नृत्य देवगांव नारायणपुर तथा करमा लोक नृत्य सोनपुर खुर्द खपरी अंबिकापुर प्रस्तुति देंगे। 14 अगस्त को बड़ोदरा मे छत्तीसगढ़ के लोकप्रिय उपकार पंथी लोक नृत्य कुटेसर चंदखुरी रायपुर के कलाकार अपनी कला का प्रदर्शन करेंगे। पंथी नृत्य दल प्रमुख दिनेश जांगड़े ने बताया हमारे दल मे 18 कलाकार है और सभी युवा तथा उर्जावान है। उपकार पंथी लोक नृत्य छत्तीसगढ़ के अलावा देश के विभिन्न राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय मंचों पर अपनी प्रस्तुति दें चुकी है। जांगड़े ने राज्य के कलाकारों को दूसरे राज्य में राष्ट्रीय मंच प्रदान करने के लिए छत्तीसगढ़ संस्कृति विभाग पर्यटन विभाग का आभार व्यक्त किया है।

चंदखुरी में केंडल मार्च शोक सभा कर दी शहीदों को श्रद्धांजलि


■ क्षेत्र के युवाओं मे नक्सलियों के प्रति दिखा आक्रोश, चंदखुरी के आसपास गांवो से भारी संख्या में युवा  श्रद्धांजलि कार्यक्रम में शामिल हुए

चंदखुरी : राजनांदगाँव बकरकट्टा थाना ग्राम भावे के घोडेघाट जंगल में इतवार को नक्सलियों के साथ हुए मुठभेड़ में खरोरा क्षेत्र के उप निरीक्षक युगल किशोर वर्मा और एक आरक्षक कृषलाल साहू शहीद हो गये। इस घटना से खरोरा तथा चंदखुरी क्षेत्र में भी मातम का माहौल है। आज शाम बजरंग चौक चंदखुरी फार्म में श्रद्धांजलि तथा शोक सभा रखा गया। क्षेत्र के युवाओं ने नगर में कैंडल मार्च निकाल कर शहीद वीर जवानों को शोक सभा में मौन धारण कर श्रद्धा सुमन अर्पित किया।

इस घटना से पुरे प्रदेश तथा चंदखुरी क्षेत्र के युवाओं में जबर आक्रोश दिखा, नक्सलियों के विरोध में जमकर नारे लगाये। इस दौरान छत्तीसगढ़ पुलिस अकादमी के प्रशिक्षक भी मौजूद थे, श्रद्धांजलि कार्यक्रम में चेतन वर्मा, कुबेर वर्मा, हेमंत वर्मा, तारे वर्मा, मनोज वर्मा, कमल नारायण वर्मा, अजित वर्मा, राजेश वर्मा, संदीप टंडन, निखिल वर्मा, दुर्गेश निषाद, कुंदन नायक, गिरवर निषाद, नीरज वर्मा, युवराज साहू, पंकज देवांगन, धर्मेंद्र वर्मा, भुनेश्वर देवांगन, देव हीरा लहरी के साथ भारी संख्या में आसपास गांवो से युवा साथी उपस्थित थे।